भारत की एक और जबरदस्त जीत, रद्द कर सकता है मालदीव चीन के साथ यह समझौता
भारत की एक और जबरदस्त जीत, रद्द कर सकता है मालदीव चीन के साथ यह समझौता
17, Jun 2019,12:06 PM
Edited By- Divya Tandon,


भारत की एक और जबरदस्त  जीत, रद्द कर सकता है मालदीव चीन के साथ यह समझौता

 चीन ने मालदीव के साथ  हिंद महासागर में एक वेधशाला  बनाने के लिए समझौता किया था। ऐसा लग रहा  है कि यह समझौता अब टूट सकता है। मालदीव के पूर्व राष्ट्रपति अब्दुल्ला यामीन के नेतृत्व में  चीन के साथ मालदीव की  नजदीकियां बढ़ीं थीं। इसी दौरान चीन द्वारा वेधशाला बनाए जाने की बातचीत और समझौता होने की बात सामने आई थी।  मालदीव में सत्ता बदलने और राष्ट्रपति इब्राहिम सोलिह के सत्ता संभालने के बाद से इस रिश्ते में खटास आती नजर आ रही है और भारत के साथ रिश्ते गहरे होते  दिखाई दे रहे हैं।

यदि चीन और मालदीव के बीच यह समझौता होता तो चीनियों को हिंद महासागर के महत्वपूर्ण रास्ते पर एक अड्डा मिल जाता जिसके जरिए कई व्यापारिक और दूसरे जहाजों की आवाजाही होती । यह भारत की समुद्री सीमा से बहुत करीब है। इसके अलावा मालदीव के साथ संबंधों के मद्देनजर यह बहुत चुनौतीपूर्ण साबित होता। तत्कालीन विदेश सचिव एस जसशंकर ने इस मुद्दे पर मालदीव के तत्कालीन  राजनयिक अहमद मोहम्मद से चर्चा की थी ।

ये भी पढ़ें :

आज देश भर में फिर हड़ताल, नहीं करेंगे काम १० लाख डॉक्टर ।

खबरें