युवराज सिंह ने नम आंखों से लिया अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट से संन्यास
युवराज सिंह ने नम आंखों से लिया अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट से संन्यास
10, Jun 2019,02:06 PM
TV100,

भारत के बेहतरीन ऑलराउंडर और 2011 विश्व कप में हीरो रहे युवराज सिंह ने सोमवार को अपने संन्यास का एलान कर दिया।  युवराज ने अंतरराष्ट्रीय और प्रथम श्रेणी क्रिकेट को अलविदा कह दिया, आगे वह आईसीसी से मान्यता प्राप्त विदेशी ट्वेंटी20 लीग में फ्रीलांस कैरियर बनाना चाहते हैं। 

युवराज ने भारत के लिए 304 वनडे में 8 हजार 701  रन बनाए हैं। युवी ने साल 2000 में केन्या के खिलाफ वनडे में डेब्यू किया था और अपना आखिरी एकदिवसीय मैच वेस्टइंडीज के खिलाफ खेला था।

युवारज ने अपना टेस्ट डेब्यू न्यूजीलैंड के खिलाफ साल 2000 में पंजाब के मोहाली के मैदान पर किया था और अपान आखिरी टेस्ट मैच इंग्लैंड के खिलाफ कोलकत्ता में खेला था।  युवी ने 40 टेस्ट की 62 परियों में 1900 रन बनाए हैं। 

58 ट्वेंटी20 मैचे खेलते हुए युवराज ने 499 रन ठोंके हैं। ट्वेंटी20 में ही इंग्लैंड के खिलाफ युवी ने छह छक्के लगाकर इतिहास रच दिया था। युवराज ने अपना आखिरी ट्वेंटी20 मैच इंग्लैंड के खिलाफ बैंगलोर में खेला था।

बता दें कि युवराज ने इस साल IPL में मुंबई इंडियन्स की ओर से खेला था, लेकिन उन्हें अधिक मौके नहीं मिले थे। भारतीय टीम में उन्होंने वापसी करने की कोशिश की लेकिन असफल रहे, शायद यही कारण है कि वह अपनी भविष्य की योजनाओं पर गंभीरता से विचार कर रहे हैं

युवराज सिंह ने कैंसर से जुझते हुए भारत को 2011 के विश्व कप को जिताने में अहम भूमिका निभाई थी। वह प्लेयर ऑफ द टूर्नामेंट बने थे।

2011 विश्व कप में भारत के नायक रहे युवराज सिंह ने सोमवार को साउथ मुंबई होटल में मीडिया को बुलाया है। अब से बस कुछ ही देर में उनकी प्रेस कांफ्रेस होगी। अटकलें लगाई जा रही हैं कि वह अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट से संन्यास की घोषणा कर सकते हैं। 

ये भी पढ़ें :

नीतीश ने कहा- पीएम मोदी के साथ मेरे संबंध बेहतर, विवादित मुद्दों पर जारी रहेगा विरोध

खबरें