ममता को झटका: टीएमसी के तीन विधायक और 50 पार्षद भाजपा में हुए शामिल
ममता को झटका: टीएमसी के तीन विधायक और 50 पार्षद भाजपा में हुए शामिल
28, May 2019,04:05 PM
TV100,

पश्चिम बंगाल में भाजपा-टीएमसी के बीच तनाव और हिंसा के बीच संपन्न हुए लोकसभा चुनाव के बाद ममता के गढ़ में एक बार फिर से सेंधमारी हुई है। टीएमसी के तीन विधायक और 29 पार्षद भाजपा में शामिल हो गए। टीएमसी के कई पार्षदों और तीन विधायकों ने दिल्ली में भाजपा मुख्यालय में भाजपा की सदस्यता ली। इनमें सबसे बड़ा नाम है टीएमसी छोड़ भाजपा में आए बड़े नेता मुकुल रॉय के बेटे सुभ्रांशु रॉय। इसे लेकर एक बार फिर टीएमसी और भाजपा के बीच तनाव बढ़ने की आशंका जताई जा रही है। 
मुकुल रॉय के बेटे सुभ्रांशु रॉय अपने पिता के साथ भाजपा हेडक्वार्टर पहुंचे। यहां उन्होंने भाजपा की सदस्यता ली। टीएमसी ने उन्हें पार्टी से बाहर कर दिया था। उनके अलावा टीएमसी से एक अन्य  विधायक और सीपीएम से एक विधायक भी भाजपा में शामिल हुआ। 

आज दिल्ली पहुंचे टीएमसी के पार्षदों में शामिल गरीफा के वॉर्ड छह की टीएमसी पार्षद रूबी चटर्जी ने दावा किया कि उनके साथ 20 पार्षद भी दिल्ली में हैं। उन्होंने कहा कि दिल्ली में 20 पार्षद आए हुए हैं। हम ममता जी से नाराज नहीं हैं लेकिन बंगाल में बीजेपी की हालिया जीत से प्रभावित होकर हम पार्टी में शामिल हो रहे हैं। लोग बीजेपी को पसंद कर रहे हैं और उसके लिए काम कर रहे हैं।
 

लोकसभा चुनाव में पश्चिम बंगाल में जबरदस्त प्रदर्शन के बाद भाजपा और ज्यादा आक्रामकता के साथ ममता बनर्जी की पार्टी टीएमसी के नेताओं को अपने पाले में लाने में जुटी है। कभी ममता बनर्जी के काफी करीबी रहे मुकुल रॉय टीएमसी के नेताओं को भाजपा के पाले में लाने में लगे हुए हैं।

मुकुल रॉय के बेटे शुभ्रांशु को टीएमसी पार्टीविरोधी गतिविधियों के आरोप में पहले ही निलंबित कर चुकी है। शुभ्रांसु रॉय ने प्रदेश में भाजपा की सफलता पर पिता मुकुल रॉय की प्रशंसा की थी, जिसके बाद ममता बनर्जी खासी नाराज हो गई थीं। इधर, स्थानीय खबरों के अनुसार, शुभ्रांसु के अलावा नोआपारा से विधायक सुनील सिंह और बैरकपुर के विधायक शीलभद्र दत्ता के भी मुकुल रॉय के साथ दिल्ली आने की खबर है। 

तीनों ही विधायक बैरकपुर लोकसभा सीट के तहत आने वाले विधानसभा क्षेत्रों से विधायक हैं। बैरकपुर में भाजपा के अर्जुन सिंह की जीत हुई है। उन्होंने टीएमसी के कद्दावर नेता और दो बार के सांसद रहे दिनेश त्रिवेदी को हराया है। भाजपा में शामिल होने की तैयारी में लगे विधायक सुनील सिंह अर्जुन सिंह के ही रिश्तेदार हैं। मालूम हो कि टीएमसी में रहे मुकुल रॉय ने 2017 में पार्टी छोड़ दी थी और भाजपा में शामिल हो गए थे। 

ये भी पढ़ें :

कश्मीर में अभी भी मौजूद हैं 275 आतंकी: डीजीपी

खबरें