ब्रह्मवेला में खुले भगवान केदारनाथ के कपाट, मंदिर के बाहर लगी भक्तों की कतारें:-चारधाम यात्रा
ब्रह्मवेला में खुले भगवान केदारनाथ के कपाट, मंदिर के बाहर लगी भक्तों की कतारें:-चारधाम यात्रा
09, May 2019,09:05 AM
tv100,

आज ब्रह्मवेला में प्रात: 5 बजकर 35 मिनट पर जय केदार के जयकारों के बीच भगवान केदारनाथ के कपाट भक्तों के दर्शनार्थ खुल गए। बाबा की पंचमुखी मूर्ति केदार मंदिर में विराजमान हुई। अब अगले छह महीने तक बाबा केदार यहीं पर श्रद्धालुओं को दर्शन देंगे। मौके पर 5 हजार से अधिक भक्त शुभ असवर के साक्षी बने। 
तड़के बाबा केदार की उत्सव डोली को मुख्य पुजारी केदार लिंग द्वारा भोग लगाया गया। और नित पूजाएं की गई, जिसके बाद डोली को सजाया गया। केदारनाथ रावल भीमाशंकर लिंग, वेदपाठियों, पुजारियों, हक्क हकूकधारियों की मौजूदगी में कपाट पर वैदिक परंपराओं के अनुसार मंत्रौच्चारण किया गया। और 5 बजकर 35 मिनट पर कपाट खोले गए। इस दौरान डोली ने मंदिर में प्रवेश किया। सर्वप्रथम पुजारियों व वेदपाठियों ने गर्भगृह में साफ सफाई की और भोग लगाया। जिसके बाद मंदिर के अंदर पूजा अर्चना की गई। ठीक 6 बजे मुख्य कपाट भक्तों के दर्शनाथ खोल दिए गए।

सेना की जम्मू-कश्मीर लाईट इंफेंटरी के बैंड की धुनों के साथ पूरा केदारनाथ भोले बाबा के जयकारों से गुंजायमान हो गया। इस दौरान केदारनाथ धाम के रावल भीमाशंकर लिंग और पूर्व मुख्यमंत्री और भाजपा सांसद रमेश पोखरियाल निशंक सहित बीकेटीसी के सदस्य भी मौजूद रहे। इस बाबत श्रीबदरीनाथ-केदारनाथ मंदिर समिति द्वारा कपाटोद्घाटन की सभी तैयारियां पूरी कर ली थीं। गढ़वाल मंडल आयुक्त डॉ. बीवीआरसी पुरुषोत्तम, जिलाधिकारी मंगेश घिल्डियाल सहित अन्य अधिकारी भी धाम में पहुंचे। 

केदारनाथ धाम के कपाट खुलने से पहले एयरफोर्स की मदद से पूजा सामग्री मंदिर पहुंचाई गई। श्रद्धालुओं की सुखद व मंगलमय यात्रा की कामना करते हुए मुख्यमंत्री ने कहा कि सभी स्थानों पर राज्य सरकार ने व्यापक व्यवस्थाएं की हैं।
 
उन्होंने कहा कि यात्रियों की सुविधा के लिए चारधाम सड़क के निर्माण कार्य को रोक दिया गया है। केदारनाथ पुनर्निर्माण का कार्य 80 प्रतिशत पूर्ण हो चुका है, अवशेष पुनर्निर्माण कार्यों पर भी तेजी से कार्य किया जा रहा है। बदरीनाथ धाम में भी आवश्यक व्यवस्थाएं सुनिश्चित की गई हैं।

यहां यात्रियों को विवेकानंद स्वास्थ्य मिशन के माध्यम से चिकित्सा सुविधाएं उपलब्ध कराई जा रही हैं। वहीं केदारनाथ धाम में भी बेहतर स्वास्थ्य सुविधा उपलब्ध कराने की व्यवस्था की गई है। स्वास्थ्य विभाग ने चार धाम यात्रा मार्गों पर प्रत्येक दो किलोमीटर पर चिकित्सकों की तैनाती की है।

ये भी पढ़ें :

INS विराट को बना दिया टैक्सी कहां और किन-किन लोगों के साथ छुट्टियां मनाने गए थे राजीव गांधी

खबरें