पानी में चलेगा बीएसएनएल का इंटरनेट, सरकार से मिला लाइसेंस
पानी में चलेगा बीएसएनएल का इंटरनेट, सरकार से मिला लाइसेंस
03, Apr 2019,04:04 PM
tv100,

इस साल के अंत तक शुरू होगी सेवा
इनमारसैट और बीएसएनएल इस साल के अंत तक अपनी सेवाओं को शुरू कर देंगे। इसके लिए कंपनी अपना इंफ्रास्ट्रक्चर लगाने का काम शुरू करने जा रही है। 

सरकारी दूरसंचार कंपनी बीएसएनएल का इंटरनेट अब हवा और पानी में भी चलेगा। कंपनी को दूरसंचार मंत्रालय से इसके लिए लाइसेंस मिल गया है। कंपनी अपनी विदेशी पार्टनर इनमारसैट के जरिए लोगों को यह सुविधा उपलब्ध कराएगी। 

भारतीय हवाई कंपनियां कर सकेंगी प्रयोग
बीएसएनएल के इंटरनेट का प्रयोग वो सभी एयरलाइंस कर सकेगी, जो भारत में परिचालन करती हैं या फिर भारतीय हवाई सीमा से उड़ते हुए विदेश में जाती हैं। कंपनियां बीएसएनएल के केए बैंड, स्विफ्ट ब्रॉडबैंड और फ्लीट ब्रॉडबैंड सेवा ले सकेंगी। यह सेवा भारतीय समुद्री सीमा में परिचालन कर रहे पानी के जहाजों पर भी लागू होंगे। 

चार कंपनियों ने इन-फ्लाइट कनेक्टिविटी सेवाएं मुहैया कराने के लिए दूरसंचार विभाग में आवेदन किया था। टाटा टेलीनेट, ह्यूजेस इंडिया, सरकारी कंपनी बीएसएनएल और ओमिनी कनेक्ट थीं।इससे पहले सुरक्षा को ध्यान में रखकर विभाग समेत दूरसंचार आयोग ने यह सेवा मुहैया कराने में देसी सेटेलाइट का उपयोग करने को कहा है।

ये भी पढ़ें :

महबूबा और उमर चाहते हैं अलग प्रधानमंत्री, लेकिन बीजेपी यह होने नहीं देगी: अमित शाह

खबरें