छत्तीसगढ़ नान घोटाला: अवैध फोन टैपिंग मामले में डीजीपी मुकेश गुप्ता और एसपी रजनेश सिंह निलंबित
छत्तीसगढ़ नान घोटाला: अवैध फोन टैपिंग मामले में डीजीपी मुकेश गुप्ता और एसपी रजनेश सिंह निलंबित
09, Feb 2019,05:02 PM
TV100,

नागरिक आपूर्ति निगम यानि कि नान घोटाला की जांच के दौरान आरोपियों की फोन टैपिंग मामले में डीजीपी मुकेश गुप्ता और नारायणपुर एसपी रजनेश सिंह को निलंबित कर दिया गया है। दोनों अधिकारियों के खिलाफ गंभीर आपराधिक आरोप के तहत मामला दर्ज किया गया। 

दोनों पर नान घोटाले में साक्ष्य छुपाने और जांच को प्रभावित करने के आरोप हैं। नान घोटाले की जांच के दौरान आरोपियों और संबंधित दर्जनों लोगों के फोन टैप करने के मामले में डीजी मुकेश गुप्ता और नारायणपुर एसपी रजनेश सिंह के खिलाफ प्राथमिकी दर्ज करने का यह पहला मामला है। 

दोनों अधिकारियों पर साजिश, फर्जी दस्तावेज बनाने समेत आधा दर्जन अलग-अलग धाराओं में केस दर्ज किया है। एफआईआर होने के कुछ घंटे के भीतर इस मामले में नया मोड़ तब आया, जब इन दोनों अफसरों के खिलाफ बयान देने वाले डीएसपी आरके दुबे ने हाईकोर्ट में शपथपत्र देकर आरोप लगाया कि एसीबी के आईजी एसआरपी कल्लूरी और एसपी कल्याण ऐलेसेला ने दबाव डालकर झूठा बयान दिलवाया है। 

ये भी पढ़ें :

केंद्र सरकार के खिलाफ चंद्रबाबू नायडू की भूख हड़ताल शुरू,

खबरें