छठ पूजा की धूम से रंगारंग हुआ पूरा शहर
छठ पूजा की घूम रंगारंग हर शहर
14, Nov 2018,11:11 AM
Edited By Aarti Singh,

पति की लंबी उम्र व पुत्र की कामने के लिए उत्तर प्रदेश का सुपप्रीद्व तयौहार छठ की आज सैकडों महिलाओ ने यमुना किनारे पूजा कर छठ मईया से यही प्रर्थना की कि उन्हे पति की हर समय सलामती चाहिए और इन महिलाओं की यह धारणा भी है कि यदि इस दो दिन के उपवास को कोई श्रृद्वा से रखता है तो उकी मुंह मांगी मुराद पूरी होती है और यही धारना लिए आज यमुनानगर में यमुना नदी का कीनारे का नजारा देखने लायक था

यमुनानगर में यमुना नदी के कीनारे की और जा रही सज धज की औरतों आज छठ माईया की पूजा करने के लिए जा रही है इन औरतों का मानना है कि दीवाली के बाद आने वाला यह दिन बडा ही भाग्यशाली दिन होता है और ऐसे में जो महिलाए अपने मन में सोच कर छठ मईया का यह व्रत रखती है उनकी हर मनोकामना पूरी होती है औश्र इस व्रत को रखने के लिए महिलाए सुबह से ही भूखे प्यासे रह कर रात को नदी के किनारे डूबते हुए सुर्या की पूजा कर उपवास को खोलती है और ऐसा करने के लिए सैकडों औरते यमुना किनारे पहुंचकर सुर्या व नदी की पूजा अर्चणा कर रही है

पति की लंबी उम्र व पुत्र की कामना मन में पाले नवविवाहिता औरते भी इस  का बेसबरी से इंतजार करती है और जब यह दिन आता है तो सुबह से ही भूखे प्यासे रहकर पूरा दिन निकालती है रात को भगवान सुर्या व यमुना नदी की पूजा करने के बाद ही इस व्रत को खोला जाता है लेकिन इस व्रत को खोलने से पहले यह लोग यमुना के कीनारे बैठकर गन्ने की भी पूजा करती है और इन दिनो ंठंड के मौसम में भी यह औरते यमुना नदी के अंदर पानी में खडा होकर अपने मन में संजोए सपनों की मनोकामना भगवान से मानती है और एक साल के अंदर मनोकामना पूरी होने के बाद यह औरते ढोल और नगाडों के साथ यमुना के तट पर आती है और यही पर दर्जनों औरते इक्टठा होेकर अपनी बोली मंे भगवान की पूजा करती है कुल मिलाकर यहा औरते इस दिन का बेसबरी से इंतजार करती है दूसरी तरफ इन दो दिनो ंमें की जाने वाली छठ पूजा भी देखने लायक होती है

 

 

 

 

 

ये भी पढ़ें :

ट्रंप ने भारतीय सभ्यता को सम्मान दिया और व्हाइट हाउस में मनाई दिवाली पीएम मोदी का करता हूं सम्मान

खबरें