गुजरात चुनाव से राजनीति में चमके ये 5 नेता, बढ़ा सियासी कद...
19, Dec 2017,03:12 PM
,

अल्पेश ठाकोर की पिछड़ा वर्ग में जबर्दस्त अपील है. उन्होंने राज्य में नशे से छुटकारा दिलाने के लिये सक्रियता से काम किया है. राजनीतिक जानकारों की मानें तो अल्पेश बीजेपी के लिए इसीलिए सिरदर्द बन सकते हैं क्योंकि उन्हें ओबीसी, एससी और एसटी का बड़ा समर्थन है. यही वजह है कि अल्पेश को लेकर इन समुदाय में ऐसा क्रेज है कि रैलियों में उनको सुनने के लिए लोग पेड़ पर तक चढ़ बैठ जाते हैं. 39 साल के अल्पेश को इन जातियों का समर्थन उनकी नशा के खिलाफ छेड़ी गई मुहिम से ही मिला है. कहा जाता है कि अल्पेश कांग्रेस के साथ आने के पहले बीजेपी सरकार के खिलाफ मोर्चा खोल चुके थे. पिछले साल एक रैली में उन्होंने यह ऐलान कर दिया था कि अगला मुख्यमंत्री बीजेपी से नहीं बल्कि हमारा होगा.

ये भी पढ़ें :

बीजेपी नेता प्रकाश जावड़ेकर का राहुल पर पलटवार।

खबरें